​लोक अदालत में निस्तारित हुए 1810 वाद

विमलेश भदौरिया,लखीमपुर खीरी / सचिव/सिविल जज (व0प्र0) ने बताया कि माननीय जिला जज राजबीर सिंह की अध्यक्षता में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण लखीमपुर खीरी द्वारा दीवानी न्यायालय परिसर लखीमपुर में तथा जनपद की तहसील विधिक सेवा समितियांे द्वारा अपने अपने तहसील परिसर में 08 अक्टूबर 2016 को मासिक राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जनपद के विभिन्न न्यायिक अधिकारियो एवं राजस्व अधिकारियों विभिन्न प्रकार के कुल 1810 वाद आपसी सुलह समझौते के आधार पर निस्तारित किये गये तथा निस्तारित मोटर दुर्घटना प्रतिकर वाद में रूपया 16,90,000.00 बतौर प्रतिकर पीडि़त व्यक्तियों को दिलाये गये एवं निस्तारित फौजदारी वादों में रूपया 192625.00 अर्थदण्ड वसूल हुआ। इस अवसर पर राजबीर सिंह जनपद न्यायाधीश द्वारा दीवानी के 10 वाद, फौजदारी के 01 वाद एवं मोटर दुर्घटना प्रतिकर 03 वाद सहित 14 वादों का निस्तारण किया गया, निस्तारित मोटर दुर्घटना प्रतिकर 03 वादों में रूपया 1,80,000-00 बतौर पीडि़त व्यक्तियों को दिलाया गया। विनोद कुमार अपर जिला जज प्रथम के न्यायालय में मोटर दुर्घटना प्रतिकर निस्तारित 01 वाद में रूपया 2,85,000-00 बतौर पीडि़त व्यक्तियों को दिलाया गया। लालता प्रसाद अपर जिला जज द्वितीय के न्यायालय में निस्तारित 06 वादों में स दीवानी के 05 वाद एवं मोटर दुर्घटना के 01 वाद में रूपया 10,00,000.00 बतौर प्रतिकर के रूप में दिलाया गया।  हामिद उल्लाह प्रधान न्यायाधीश परिवार न्यायालय में वैवाहिक/भरण पोषण सम्बन्धी पति पत्नी के 55 वाद निस्तारित किये। मो0 अशरफ अंसारी अपर जिला जज तृतीय के न्यायालय में दीवानी के 04 वाद निस्तारित किये। रामायण शर्मा विशेष न्यायाधीश के न्यायालय में निस्तारित 10 वादों में दीवानी के 04 एवं फौजदारी के 06 वादों में रूपया 500 अर्थदण्ड वसूल हुआ। बाबू राम अपर जिला जज चतुर्थ के न्यायालय में दीवानी एवं फौजदारी का 01-01 वाद निस्तारित हुआ। श्रीमती नीलू मोद्या अपर जिला जज/एफ0टी0सी0 के न्यायालय में निस्तारित 06 वादांे में से 03 वाद फौजदारी एवं 03 वाद दीवानी के निस्तारित हुए। नवनीत गिरि अपर जिला जज षष्टम के न्यायालय में दीवानी के 08 वाद एवं मोटर दुर्घटना प्रतिकर के निस्तारित 01 वाद में रूपया 225000.00 बतौर प्रतिकर पीडि़त व्यक्तियों को दिलाये गये। अनामिका चौहान अपर जिला जज/न्यू एफटीसी ने वैवाहिक/भरण पोषण सम्बन्धी पति पत्नी के 04 वाद निस्तारित किये। डा0दीनानाथ मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के न्यायालय में निस्तारित 389 फौजदारी वादों में रूपया 78470-00 अर्थदण्ड वसूल किया गया। राहुल प्रकाश सिविल जज (व0प्र0) के न्यायालय में उत्तराधिकार के 06 वाद निस्तारित हुए। रामअवतार प्रसाद अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम के न्यायालय में निस्तारित फौजदारी के 142 वादों में रूपया 52400 अर्थदण्ड वसूल किया। प्रदीप कुमार सिविल जज (व0प्र0)/एफ0टी0सी0 के न्यायालय में निस्तारित 63 फौजदारी वादों में रूपया 8610 अर्थदण्ड वसूल किया। अतुल चौधरी सिविल जज (क0प्र0) के न्यायालय में 06 दीवानी एवं 11 उत्तराधिकार वादों का निस्तारण हुआ। मृन्युजय श्रीवास्तव न्यायिक मजिस्ट्रेट के न्यायालय में निस्तारित 142 फौजदारी वादों में रूपया 16370-00 अर्थदण्ड वसूल हुआ। प्रमोद कुमार सिंह यादव अपर सिविल जज (क0प्र0) द्वितीय के न्यायालय में निस्तारित 128 फौजदारी वादों में रूपया 36275-00 अर्थदण्ड वसूल हुआ। 

Working as Journalist for Aaj Tak, Editor-in-chief of this news portal.
Mobile: +919415168477, +919839147020
Email: abhishek4aajtak@gmail.com

Comments are closed.