​उद्यमियों की समस्या का निराकरण प्राथमिकता के आधार पर करें :- आकाशदीप

लखीमपुर खीरी / जिला उद्योग एवम् उद्यम प्रोत्साहन केन्द्र के तत्वाधान में जिला उद्योग बन्धु की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी आकाशदीप की अध्यक्षता में सम्पन्न हुयी। जिसमें औद्योगिक इकाइयों के पक्ष में स्वीकृत विद्युत भार के अवमुक्ति की समीक्षा की गयी। बैठक में ओवर लोड वाहन, यातायात व्यवस्था, अतिक्रमण, नालो की सफाई सहित आवश्यक बिन्दुओं पर विचार विमर्श किया गया। डीएम ने निर्देश दिए कि सभी अधिकारी अनिवार्य रूप से बैठक में प्रतिभाग करे। अनुपस्थित रहने पर कार्यवाही के लिए तैयार रहे। उन्होनें कहा कि जो अधिकारी आज की बैठक अनुपस्थित है उनका स्पष्टीकरण तलब किया जाये। उन्होनें ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू करने के संबंध में उपस्थित व्यापारियों बंधुओं से गहन विचार विमर्श किया। उन्होनें कहा कि जहां पर आवश्यक हो उन स्थानों को चिन्हित करने हेतु एआरटीओं एवं अधिषासी अधिकारी नगर पालिका सेें समन्वय स्थापित करके यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाये। जिससे आम जन को असुविधा का सामना न करना पड़े। बैठक में गत बैठक की कार्यवाही की पुष्टि की गयी, बैठक में उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियन्त्रण बोर्ड की प्रगति, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम की प्रगति सहित विभिन्न योजनाओं के बारे में विस्तार से चर्चा की गयी। डीएम आकाशदीप ने निर्देशित किया कि सभी अधिकारी उद्यमियों, व्यापारियों की समस्या का निराकरण प्राथमिकता के आधार पर करे इसमें किसी प्रकार लापरवाही न बरती जाये। डीएम ने नगर पालिका परिषद से आये प्रतिनिधि को निर्देशित किया कि शहर के मुख्य चौराहे एवं मार्गो का सौन्दर्यीकरण कराने के साथ-साथ साफ सफाई की व्यवस्था कराना सुनिश्चित करे। शहर में स्थित सड़को के चौड़ीकरण, पार्किग की समस्या , अतिक्रमण की समस्या पर बैठक में विस्तारपूर्वक चर्चा की गयी। श्री दीप ने सम्बन्धित विभागों को निर्देशित करते हुए कहा कि कि आज की बैठक में जिन विभागों की समस्याएं आयी है, सम्बन्धित विभाग समयान्तर्गत निदान करते हुए अवगत कराये। इस मौके पर उपायुक्त उद्योग, अधिषासी अधिकारी नगर पालिका अवनीन्द्र कुमार, अपर जिला सूचना अधिकारी दिव्या निगम, सहित व्यापारी व जनपद स्तरीय अधिकारीगण मौजूद रहे।

Working as Journalist for Aaj Tak, Editor-in-chief of this news portal.
Mobile: +919415168477, +919839147020
Email: abhishek4aajtak@gmail.com

Comments are closed.