‘ग्रीन टीचर अवार्ड’से सम्मानित हुए अनुराग

मुम्बई / उत्तरप्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में दुधवा टाइगर रिजर्व के पास गाँव गवई के बच्चों को मुफ़्त पर्यावरण शिक्षा दे रहे अनुराग कुमार को मुम्बई में सम्मान मिला है। अनुराग को सेचुरी एशिया के ग्रीन टीचर अवार्ड से सम्मानित किया गया है। अनुराग मूलतः लखीमपुर के ही रहने वाले हैं और पांच सालो से ज्यादा वक्त से दुधवा के बंशीनगर में गाँव के बच्चों को सेव टाइगर और सेव जंगल विषय पर मुफ़्त शिक्षा भी दे रहे हैं।।पर्यावरण और जंगल को नई पीढी के साथ जोड़ने का काम कर रहे अनुराग पुरस्कार पाकर काफी खुश हैं कहते हैं दुधवा और जंगल तभी बचेंगे जब आणि वाली पीढ़ी जागरूक होगी। मेरा काम भी जंगल किनारे रह रहे बच्चों को जंगल का महत्व बताना है। मुम्बई में सेंक्चुरी एशिया ग्रीन टीचर अवार्ड अनुराग को बच्चों को पर्यावरण और जंगल को बचाने के लिए दिया गया है। सेंचुरी एशिया के संस्थापक प्रसिद्ध वाइल्ड एक्सपर्ट बिट्टू सहगल और पूरी टीम ने दिया। इस समारोह में फिल्म निर्माता श्याम बेनेगल ने 18 दिसम्बर को मुम्बई में एक भव्य समारोह मे अनुराग को सम्मानित किया। अनुराग को पुरस्कार मिलने से जिले के वाइल्ड लाइफ और अनुराग के जानने वालों ने ख़ुशी जताई है।

Working as Journalist for Aaj Tak, Editor-in-chief of this news portal.
Mobile: +919415168477, +919839147020
Email: [email protected]

Comments are closed.