अमर पाल सिंह,फूलबेहड / जिला मुख्यालय से बीस किलोमीटर दूर विकास खण्ड फूलबेहड के अन्तर्गत मुख्य सडक से तेन्दुआ श्रीनगर होते हुए बडागाँव बसहा समेत दर्जनो गाँवों को जोडने वाला मुख्य सम्पर्क मार्ग अपनी बदहाली पर आँसू बहा रहा है वही दर्जनों गाँवो के ग्रामीण अपनी जान जोखिम में डालकर टूटे पुल पर निकलने को मजबूर है वहीं सैकडो किसानों के लिए अपनी फसल के बारे में चिंता सताने लगी है वही किसान शासन और जनप्रतिनिधियों को अपने वादे को याद दिलाने के साथ साथ जिला प्रशासन को कोसते रहते हैं  बता दें कि लोक निर्माण विभाग खण्ड एक के द्वारा बोरियो में मिट्टी भरवाकर पुल के किनारे सीमेन्टेड पाईप डालकर काम चलाऊ रास्ता बनाकर इतिश्री कर लिया है जिससे लोग इस पुल पर अब अपनी जान को खतरे में डालकर निकलने को मजबूर है वही गाँव गोपालापुर, बडागाँव, बसहा, मेहन्दा, बहालीपुरवा , ग्रन्ट, खरईपुरवा समेत दर्जनो गाँवो के किसानो को अपनी फसल गन्ना , गेहूँ आदि को लेकर जाने की चिन्ता सताने लगी है ग्रामीणो का कहना है कि यदि समय रहते पुल का कार्य पूरा नही कराया जाता तो हम लोग कैसे अपनी फसल को लेकर जाएँगे लोगो ने शीघ्र पुल की मरम्मत पूरी कराने की माँग की है।

Working as Journalist for Aaj Tak, Editor-in-chief of this news portal.
Mobile: +919415168477, +919839147020
Email: [email protected]

Comments are closed.