हौसला पोषण योजना का हुआ शुभारम्भ, डीएम ने गर्भवती महिलाओं और बच्चों को परोसा भोजन

ब्रहम ऋषि नागर,लखीमपुर खीरी / आंगनबाड़ी केन्द्रों में पंजीकृत गर्भवती महिलाओं और अतिकुपोषित गंभीर बच्चों को हौसला पोषण मिशन के तहत गर्म पका पकाया भोजन, दूघ दही, घी और फल वितरण का कार्य बुधवार से शुरू हो गया है। जिलाधिकारी आकाशदीप ने तहसील सदर के अर्न्तगत गोद लिये ग्राम सैधरी डिप्टी कलेक्टर पल्लवी मिश्रा की के साथ पहुंचकर योजना का शुभारम्भ किया । कुपोषण की रोकथाम और गर्भवती महिलाओं के पोषण स्तर मे सुधार हेतु ग्रामीण क्षेत्रों के आंगनबाड़ी केन्द्रों पर गर्म पका पकाया भोजन खिलाने के अलावा आयरन की गोलियंा एवं स्वास्थ्य पोषण परामर्श दिए जाने हेतु उ0प्र0 के मुख्यमंत्री की महत्वाकांक्षी हौसला पोषण योजना चलाई गई है। जिलाधिकारी ने स्वयं अपने हाथों से बच्चों को घी, दही और फल वितरित किए। वही दूसरी ओर जिला स्तरीय अधिकारियों ने अपने गोंद लिए ग्रामीण क्षेत्र के आंगनबाड़ी केन्द्रो पर पहंुचकर भोजन एवं अन्य साम्रगी वितरण कर योजना का शुभारम्भ किया। जिलाधिकारी आकाशदीप ने विकासखण्ड लखीमपुर के ग्राम सैधरी के आंगनबाड़ी केन्द्र पर मौजूद गर्भवती महिलाओं और ग्रामवासियों से कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा गर्भकाल से ही कुपोषण को समाप्त करने और बच्चों को और बेहतर स्वास्थ्य हेतु यह योजना संचालित की गई है, इसका लाभ उठाते हुएं अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग हो तथा गर्भ में पल रहे देश के भविष्य को महफूज रखते हुए स्वस्थ्य बनाये। जिससे हमारा प्रदेश एवं समाज स्वस्थ्य रहे। उन्होनें चिकित्सकों को निर्देशित करते हुए कहा कि कम से कम पन्द्रह दिन में एक बार केन्द्र में आकर गर्भवती महिलाओं और बच्चों का चिकित्सकीय परीक्षण कराना सुनिश्चित करे। डीएम ने कहा कि शासन द्वारा निर्धारित मीनू के अनुसार ही भोजन का वितरण किया गया। इस अवसर पर डिप्टी कलेक्टर पल्लवी मिश्रा ने भी महिलाओं को अपने क्रियाकलापों के साथ स्वस्थ रहने के लिए दी जाने वाली सुविधाओं का भरपूर उपभोग कर स्वस्थ रहने जागरूक किया। प्रभारी सीडीपीओं सुमनलता ने भी योजना के प्रमुख बिन्दुओं के सम्बन्ध में जानकारी दी। इस मौके पर ग्राम प्रधान ममता सिंह, ग्राम सदस्य तथा काफी तादात में गांव के लोग आंगनबाड़ी केन्द्र पर उपास्थित रहे ।

Working as Journalist for Aaj Tak, Editor-in-chief of this news portal.
Mobile: +919415168477, +919839147020
Email: [email protected]

Comments are closed.